Thu. Nov 14th, 2019

Lohia Kranti

The Best News

शहर में झोलाछाप डॉक्टरों की बाढ़ छोटी छोटी जगह में बना रखी है अपनी चलती फिरती दुकाने

1 min read

(नीरज लोहिया)


शहर के सीएमओ तक इनसे है परेशान आये दिन झोलाछाप डॉक्टर किसी न किसी को इलाज के दौरान सुला देते है मौत की नींद


शहर के झोलाछाप प्रभारी आर एन सिंह गोपनीय ढंग से करा रहे है जाँच


शहर में आज कल दिमागी बुखार और मलेरिया का प्रकोप इस तरह आ पड़ा है जिसके कारण समस्त वर्ग के लोग इसकी चपेट में आकर अपनी जान गवा बैठे हैं इसी बीमारी का फायदा जादा तर झोलाछाप डॉक्टरों उठा कर बेधड़क अपनी दुकान चला रहे है उन्हें लगता हैं कि उनकी लाटरी निकल चुकी है। और इनकी चपेट में गरीब आकर अपनी जान गवा देते है फिर इसके बाद पता चलता है कि झोलाछाप डॉक्टर है जिनके पास कोई डिग्री भी नही और यह खुले आम जनता को डिग्री बता कर इलाज कर रहे है यह झोलाछाप डॉक्टर अपनी दुकान अधिकतर छोटी जगह पर जादा चलाते हैं जिससे इनके पास कभी कोई अधिकारी न जाये और यह अपनी दुकान आराम से चला सके इनके सहयोग में कुछ एम आर और मेडिकल स्टोर भी रहते है जो झोलाछाप डॉक्टर के खुल के सहयोग भी करते है लेकिन जब इनके इलाज से मरीज़ की हालत गंभीर हुई तो किसी सरकारी अस्पताल ले जाने को कह देते है जिससे इनके ऊपर का कलंक सरकारी अस्पताल झेले और यह बच जाए। आपको बताते चलें कि मौसमों के मद्दे नजर सरकारी चिकित्सक समय-समय पर सामाजिक संस्थाओं के माध्यम से आम आदमी के स्वास्थ्य के लिए जागरूकता अभियान चलाकर नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण चलाते हैं। जिसमें सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों एवं सिविल सर्जनों के परीक्षण के बाद ही इलाज कराने का संदेश देते हैं। किंतु शहर में फैले झोलाछाप डॉक्टरों के चंगुल से समझदार भी नहीं बच पाते है। उनका प्रमुख कारण यह है कि समाज में यह भ्रांति पड़ोस के डॉक्टर के क्लीनिक में जाने की ललक लगी है। जिसका फायदा उठाकर जगह-जगह झोलाछाप डॉक्टरों की दुकान सजी हुई है।खासतौर पर घनी आबादियों, मलिन बस्तियों में इस तरह की दुकानें सजी हुई है। जिसमें अपनी प्रतिभा जन-जन तक पहुंचाने के लिए कुछ झोलाछाप तो प्रचार- प्रसार के लिए एजेंट से लेकर अपनी क्लिनिको में नये मरीज उनके ग्लैमर से चमत्कृत होकर उनके झांसे में फंस जाते हैं इस तरह के क्लीनिक शहर में एक जगह झोला छापों के नहीं खुली है बल्कि जगह-जगह घनी, मलिन व पुरानी बस्तियों में बेगम पुरवा, बगाही आलू मंडी, रायपुरवा बेगमगंज ,चमनगंज ,शास्त्री नगर आदि जगह अपना ग्लैमर फैलाये हुए हैं।जिसमें ग्रामीण अंचले में तो इनके इलाज के बिना या परामर्श के बिना मरीज सरकारी अस्पताल तक नहीं जाता।इनकी रोक थाम के लिए इस बार झोलाछाप प्रभारी डॉक्टर आर०एन० सिंह के नेतृत्व अपनी गोपनीय टीम बना कर छापेमारी की तैयारी कर ली है और बिना किसी हो हले के इन पर लगाम कसने जा रहे है डॉ सिंह ने कहा है मेरे सूत्रों से मुझे जिले के झोलाछाप डॉक्टरों की सूचना मिल चुकी है मैं जल्द इन पर उचित कार्यवाही करूँगा हालांकि डॉक्टर सिंह बताते हैं कि आम जनमानस केअन्दर इनका इतना मजबूत संजाल फैला हुआ है कि लोग इनके विषय में कुछ भी बताने से इंकार कर देते हैं। जिससे झोलाछापों के चिंहाकन के लिए अपनी ही टीम लगानी पड़ रही है। लेकिन हमारी टीम ने मुझे अधिक से अधिक जानकारी मुहिया कर दी है जल्द से जल्द इन पर कार्यवाही करके जिले को इन झोलाछाप डॉक्टरों के चुंगल से मुक्त करूँगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

September 2019
M T W T F S S
« Aug   Oct »
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
30